कलेक्टर ने ली साप्ताहिक समय सीमा की बैठक जिले के समस्त स्कूलों में 16 जून को शाला प्रवेशोत्सव मनाने की तैयारी के संबंध में दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

कलेक्टर ने ली साप्ताहिक समय सीमा की बैठक जिले के समस्त स्कूलों में 16 जून को शाला प्रवेशोत्सव मनाने की तैयारी के संबंध में दिए आवश्यक दिशा-निर्देश

किसानों को खाद-बीज के उठाव में न हो दिक्कत – कलेक्टर

 

 

जांजगीर चांपा 13 जून 2023/ कलेक्टर ऋचा प्रकाश चौधरी की अध्यक्षता में आज जिला कलेक्टोरेट कार्यालय के सभाकक्ष में साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक संपन्न हुई। कलेक्टर ने बैठक में शाला प्रवेशोत्सव के तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि 16 जून से पहले स्कूलों में मरम्मत, साफ़-सफ़ाई, पेयजल, शौचालय जैसी मूलभूत समस्याओं का समाधान हो जाना चाहिए। कलेक्टर ने शाला प्रवेशोत्सव समस्त शालाओं में मनाने, स्थानीय जनप्रतिनिधि एवं जनभागीदारी समिति की उपस्थिति में प्रवेशोत्सव मनाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने जिला शिक्षा अधिकारी को शाला में प्रारंभिक 10 दिवस समर कैम्प की तरह शैक्षणिक वातावरण तैयार करने, सभी शिक्षकों को शाला त्यागी बच्चों, पलायन करने वाले परिवारों के बच्चों, आंगनबाड़ी के 5 वर्ष से अधिक के बच्चों एवं डोर टू डोर जाकर स्कूल में दाखिला कराने हेतु प्रोत्साहित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने स्कूलों में शाला प्रवेशोत्सव के दिन गणवेश व पाठ्यपुस्तक का भी वितरण करने कहा।
कलेक्टर ने मानसून के आगमन को ध्यान में रखते हुए खेती-किसानी की तैयारी की समीक्षा की। उन्होंने खाद-बीज की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करने कहा। किसानों को खाद-बीज उपलब्ध कराने में कोई दिक्कत नहीं होने चाहिए। उन्होंने गोठानों में निर्मित वर्मीकम्पोस्ट खाद की समितियों में निरंतर उपलब्धता बनाये रखने को कहा है। कलेक्टर ने खाद की उपलब्धता की जानकारी लेते हुए सभी सोसायटी में शतप्रतिशत खाद की उपलब्धता सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये। कलेक्टर आगामी विधानसभा निर्वाचन की तैयारी की समीक्षा की। उन्होंने ईव्हीएम एवं व्हीव्हीपीएटी मशीनों की प्रथम स्तरीय जांच, गांवों एवं शहरों में 17 प्लस आयु के नवीन मतदाताओं को जोड़ने, मतदान केंद्रों की आधरभूत व्यवस्थाएं, स्वीप गतिविधियों जैसे अन्य कार्यों को कुशलता पूर्वक करने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में सेक्टर ऑफिसर को पोलिंग बूथ पर आधारभूत व्यवस्थाओं बिजली, पानी, रैंप, शौचालय निर्माण का निरीक्षण करने कहा। उन्होंने जनचौपाल में प्राप्त आवेदनों का गंभीरतापूर्वक प्राथमिकता के साथ संबंधित अधिकारियों को निराकरण करने कहा। कलेक्टर ने सभी तहसीलदारों को छात्रावासों में मूलभूत व्यवस्था जैसे बिजली, पानी, लाइट, पंखा, साफ-सफाई व मरम्मत कार्यों का निरीक्षण करने के निर्देश दिए। उन्होंने मुख्यमंत्री स्कूल जतन योजना के अंतर्गत चलने वाले कार्यों की समीक्षा की। उन्होंने स्कूलों के मरम्मत, अपूर्ण कार्य व प्रगतिरत कार्यों की जानकारी लेते हुए आवश्यक निर्देश दिए। कलेक्टर ने मुख्यमंत्री के फ्लैगशिप योजनाओं को प्राथमिकता निर्धारित कर गुणवत्तापूर्ण कार्य करने संबंधित अधिकारियों को कहा। इसके साथ ही समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर ने मत्स्य पट्टा, अमृत सरोवर, पेंशन प्रकरण, आयुष्मान कार्ड निर्माण की प्रगति, प्रधानमंत्री आवास योजना, जल जीवन मिशन, धन्वन्तरी योजना, मुख्यमंत्री वन संपदा योजना, सी-मार्ट, स्वास्थ्य सुविधा, मुख्यमंत्री सुपोषण योजना, सार्वजनिक वितरण प्रणाली के कार्य, मनरेगा, केसीसी, लोक सेवा गारंटी, राजीव युवा मितान क्लब, हाट-बाजार क्लिनिक योजना, स्वामी आत्मानंद विद्यालय, निर्माण कार्यों के अद्यतन स्थिति, मुख्यमंत्री शहरी स्लम स्वास्थ्य योजना सहित अन्य विभिन्न विषयों पर विस्तार से जानकारी ली तथा आवश्यक निर्देश दिए। बैठक में अपर कलेक्टर  एस पी वैद्य, सभी एसडीएम सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

Leave a Comment

[democracy id="1"]

मुख्यमंत्री विष्णु देव की संवेदनशील पहल छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को अनुसूचित जनजातियों की सूची में पाव जाति के साथ शामिल करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा

error: Content is protected !!