डाक मतपत्र दल के लिए नियुक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिया गया प्रशिक्षण

डाक मतपत्र दल के लिए नियुक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को दिया गया प्रशिक्षण

29 अप्रैल से 06 मई तक सुविधा केंद्र में कर सकतें है मतदान

 

 

 

जांजगीर चांपा 27 अप्रैल 2024 /कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी आकाश छिकारा के निर्देशन में जिला पंचायत के सभाकक्ष में डाक मतपत्र दल के लिए नियुक्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया। संयुक्त कलेक्टर  ज्ञानेन्द्र ठाकुर ने डाक मतपत्र के लिए प्रशिक्षण ले रहे अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि डाक मतपत्र के लिए आयोग द्वारा जारी सभी दिशा निर्देशों का गंभीरता से समझे । प्रशिक्षण में संयुक्त कलेक्टर ममता यादव, उप संचालक योजना एवं सांख्यिकी  पायल पांडेय सहित डाक मतपत्र के लिए चयनित कर्मचारी उपस्थित थे।
प्रशिक्षण में डाक मतपत्र की सभी प्रक्रिया का बारिकी से प्रशिक्षण दिया और प्रशिक्षण के दौरान डाक मतपत्र के दौरान भरने वाले सभी दस्तावेज एवं फार्म को भरने का अभ्यास भी कराया गया। प्रशिक्षण संयुक्त कलेक्टर ठाकुर ने बताया 1 मई को डाक मतपत्र के माध्यम से 85 वर्ष से अधिक उम्र के मतदाता और दिव्यांगजनों को घर पहुंचकर मतदान का कार्य संपादित कराया जाना है। डाक मतपत्र संपादित के दौरान राजनितिक दलों के अधिकृत प्रतिनिधि, बीएलओ, ग्राम सचिव उपस्थित रहेंगे। समस्त प्रक्रिया की विडियोंग्राफी भी कराई जाएगी।
लोकसभा सामान्य निवाचन-2024 निर्वाचन कर्तव्य पर तैनात सभी कर्मचारियों, अधिकारिया एवं अनुपस्थित-अनिवार्य सेवा के निर्वाचक के लिए डाक मतपत्र के माध्यम से मतदान करने हेतु सुविधा केन्द्र स्थापित किया गया है। सुरक्षा बल, कोटवार एवं अन्य जिले के अधिकारी, कर्मचारी के लिए 29 अप्रैल से 3 मई प्रातः 9 बजे से शाम 5 बजे तक नवीन ऑडिटोरियम भवन जिला पंचायत के बाजू में जांजगीर, जिले के मतदान कर्मी 29 अप्रैल से 30 अप्रैल तक प्रातः 9 बजे से शाम 5 बजे तक स्वामी आत्मानंद अंग्रेजी माध्यम विद्यालय क्रमांक 01 जांजगीर, अनिवार्य सेवा के मतदाता कर्मचारियों पोस्टल वोटिंग सेंटर, रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय जांजगीर में 01 मई से 3 मई तक प्रातः 9 बजे से शाम 5 बजे तक एवं जिले के छुटे हुए अन्य मतदाता 04 मई से 06 मई तक प्रातः 10 बजे से शाम 5.30 बजे तक पोस्टल वोटिंग सेंटर, रिटर्निंग अधिकारी कार्यालय जांजगीर में डाक मतपत्र के माध्यम से मतदान कर सकते हैं।

Leave a Comment

[democracy id="1"]

मुख्यमंत्री विष्णु देव की संवेदनशील पहल छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को अनुसूचित जनजातियों की सूची में पाव जाति के साथ शामिल करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा

error: Content is protected !!