वित्त मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली

वित्त मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली

सभी विभाग आपसी समन्वय बनाकर जिले को बनाएं बेहतर – ओ पी चौधरी

हितग्राहियों को प्रभारी मंत्री ने किया सामग्री वितरण, बढ़ाया उनका उत्साह

 

जांजगीर-चांपा 21 जून 2024/ वित्त मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री  ओ पी चौधरी ने आज कलेक्टोरेट कार्यालय के सभाकक्ष में जिला स्तरीय अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। बैठक में उन्होंने कहा कि जिले में विकास की असीम संभावनाओं को देखते हुए सभी विभाग मिलकर कार्य करें और जिले को अग्रणी जिला बनाने में अपनी भूमिका निभाएं। बैठक में उन्होंने सभी निर्माण कार्याें को समय सीमा के भीतर गुणवत्ता के साथ पूर्ण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर आकाश छिकारा ने जिले के डिस्ट्रिक्ट विजन प्लान एवं विभिन्न योजनाओं की प्रगति की जानकारी से प्रभारी मंत्री को अवगत कराया।
प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने कहा कि जांजगीर-चांपा कृषि प्रधान जिला है। इसलिए किसानों को खाद-बीज एवं पानी को लेकर किसी प्रकार की कोई समस्या नहीं आनी चाहिए। उन्होंने खरीफ फसल में पर्याप्त मात्रा में खाद बीज भंडारण रखने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए और जिले में भंडारण की स्थिति की जानकारी ली। उन्होंने जिले के शत प्रतिशत किसानों को किसान सम्मान निधि योजना का लाभ दिलाने के निर्देश दिए। उन्होंने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के कार्याें की समीक्षा करते हुए कहा कि जल जीवन मिशन के तहत चल रहे कार्याें को समय सीमा के भीतर पूर्ण करें और नागरिकों को जलापूर्ति सुनिश्चित की जाए। उन्होंनें पीएचई के अधिकारियों से फील्ड में जाकर सतत मॉनिटरिंग करें। उन्होंने पर्यटन के क्षेत्र में जांजगीर-चांपा के कोटमीसोनार को और अधिक विकसित करने के लिए कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश संबंधित अधिकारी को दिए। इसके साथ ही उन्होंने हनुमान धारा में मूलभूत सुविधाओं का विस्तार करने और पौधरोपण करते हुए क्षेत्र को ऑक्सीजोन बनाने कहा।
प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने कहा कि बारिश के दौरान पौध रोपण किया जाए। उन्होंने रेशम विभाग के अधिकारी से कहा कि कोसा के क्षेत्र में जिला अग्रणी है इसलिए इस दिशा में कार्य करते हुए अर्जुन के पौधे लगाएं जाए। उन्होंने कहा कि समीक्षा बैठक के दौरान प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने कहा कि कानून व्यवस्था बनाये रखने के लिए पुलिस एवं जिला प्रशासन मिलकर कार्य करें। इसके अलावा उन्होंने राजस्व विभाग के प्रकरणों को समय सीमा में निराकरण करने, अवैध उत्खनन पर कार्रवाई करने, विद्युत व्यवस्था दुरूस्थ बनाये रखने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में डीएमएफ मद के माध्यम से लाईब्रेरी, पर्यटन, खेल को बढ़ावा देने वाले कार्याें का प्रस्ताव बनाने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि जिले में मछली पालन को बढ़ावा देने के लिए कुदरी बसंतपुर एवं शिवरीनारायण बैराज में कार्ययोजना तैयार करने के निर्देश संबंधित अधिकारियों को दिए। इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक  विवेक शुक्ला, डीएफओ प्रियंका पांडेय, सहायक कलेक्टर  दुर्गा प्रसाद अधिकारी, अपर कलेक्टर  एस पी वैद्य, जिला पंचायत मुख्य कार्यपालन अधिकारी  गोकुल कुमार रावटे, अपर कलेक्टर  लवीना पांडेय सहित सभी संबंधित विभागीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।

प्रभारी मंत्री ने पौधरोपण कर दिया पर्यावरण संरक्षण का संदेश

वित्त मंत्री एवं जिले के प्रभारी मंत्री ओ पी चौधरी ने कलेक्टोरेट परिसर के मुख्य द्वार के दोनो ओर किनारो पर नारियल का पौधा रोपा। इस दौरान उन्होंने कहा कि पर्यावरण को सुरक्षित रखने के लिए हम सभी को अपने आस-पास पौधे लगाकर उनकी देखभाल करते हुए उन्हें विकसित करना चाहिए जिससे प्राकृतिक संतुलन व पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा मिले।

हितग्राहियों को प्रभारी मंत्री ने किया सामग्री वितरण, बढ़ाया उनका उत्साह

वित्त मंत्री  ओ पी चौधरी ने नवागढ़ विकासखंड के दिव्यांग दुर्गा थवाईत, खम्हारीलाल, बलौदा विकासखंड के सर्वेश कुमार देवांगन, सनद कुमार देवांगन को मोटराईज्ड ट्रायसायकल, विकासखंड बम्हनीडीह के जगदीश कुमार सूर्यवंशी, महेश राम रात्रे को श्रवण यंत्र, विकासखंड नवागढ़ के मनीराम पटेल को ट्रायसायकल, कमलकांत कौशिक को व्हीलचेयर का वितरण किया। इसी प्रकार शिक्षा विभाग के निःशुल्क पाठ्य पुस्तक एवं गणवेस वितरण एवं सरस्वती योजना के तहत छविरानी खुंटे, प्रिंयका मंहत, शोभिता खुंटे, नंदनी राज, अभिलाषा यादव को सायकल, पुस्तक एवं गणवेश का वितरण किया। इसके साथ ही  चौधरी ने दुर्गा साहू, शालू साहू, निशा साहू, सुमित साहू एवं लव कुमार केंवट को जाति प्रमाण पत्र का वितरण भी किया। इसी प्रकार उद्यानिकी विभाग अंतर्गत पोषण बाड़ी योजना के तहत सब्जी बीज एवं पौधा का वितरण भी किया। जिसमें रामतिरीत कश्यप, गौरी शंकर कश्यप, हरीचंद कश्यप, कैलाश कश्यप, चैतुराम कश्यप को सब्जी बीज एवं पौधा का वितरण भी किया। कृषि विभाग अंतर्गत आत्मायोजन के तहत अरहर बीज वितरण किया गया। जिसमें दुकालू तेली, दौलतराम साहू, बाबूदास महंत, शिवदयाल कश्यप, श्याम सुंदर राठौर को बीज ग्राम योजना के तहत अरहर बीज का वितरण किया गया है।

Leave a Comment

[democracy id="1"]

मुख्यमंत्री विष्णु देव की संवेदनशील पहल छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को अनुसूचित जनजातियों की सूची में पाव जाति के साथ शामिल करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा

error: Content is protected !!