कलेक्टर ने ली महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा बैठक

कलेक्टर ने ली महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा बैठक

आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती करने के दिए निर्देश

शासन की योजनाओं का लाभ सभी पात्र हितग्राहियों को देना सुनिश्चित करें – कलेक्टर

 

 

 

जांजगीर-चांपा 3 जुलाई 2024/ कलेक्टर आकाश छिकारा ने आज कलेक्टोरेट कार्यालय के सभाकक्ष में महिला एवं बाल विकास विभाग की समीक्षा बैठक ली। कलेक्टर ने महिला एवं बाल विकास विभाग के अंतर्गत संचालित विभिन्न योजनाओं, सेवाओं और कार्यक्रमों की गहन समीक्षा करते हुए संबंधित अधिकारियों से कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग का कार्य अत्यंत महत्वपूर्ण है। उन्होंने शासन की जनकल्याणकारी योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को प्राथमिकता से पहुंचाने के निर्देश दिए। उन्होंने जिले में संचालित आदर्श आंगनबाड़ी केंद्र एवं मिनी आंगनबाड़ी केंद्रों की स्थिति, निर्माणाधीन आंगनबाड़ी केन्द्रों व नवीन आंगनबाड़ी केन्द्रों की जानकारी लेते हुए अपूर्ण कार्यों को जल्द पूर्ण करने सहित आंगनबाड़ी केन्द्रों में रनिंग वाटर, बिजली, पेयजल सहित अन्य आवश्यक व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।
समीक्षा के दौरान आंगनबाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका, मिनी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के रिक्त पदों एवं भर्ती प्रक्रिया की परियोजना वार जानकारी ली और भर्ती प्रक्रिया समय अवधि में पूर्ण करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने कहा कि सभी पर्यवेक्षक, एएनएम, मितानिन, बीएमओ और परियोजना अधिकारी बैठक कर गर्भवती महिलाओं एवं शिशुवती माताओं एवं एनीमिक महिलाओं के स्वास्थ्य पर योजना बनाकर कार्य करें। उन्होंने बैठक में आंगनबाड़ी गतिविधियों पर चर्चा करते हुए रेडी-टू-ईट, पोषण आहार एवं मेनू चार्ट के अनुसार बच्चों को खाना देने कहा। कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केंद्रों का निर्धारित समयानुसार सुचारू रूप से संचालन करने के निर्देश देते हुए सभी सीडीपीओ, सेक्टर्स सुपरवाईजर को अपने-अपने क्षेत्रों के आंगनबाड़ी केंद्रों का नियमित रूप से निरीक्षण करने के निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने जिले में नोनी सुरक्षा योजना, मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, महतारी वंदन योजना, सखी वन स्टॉप सेंटर, बाल विवाह रेस्क्यू अभियान सहित अन्य विभागीय योजनाओं का लाभ पात्र हितग्राहियों को प्राथमिकता से पहुंचाने के निर्देश दिए। इस अवसर पर जिला कार्यक्रम अधिकारी  अनिता अग्रवाल सहित सर्व परियोजना अधिकारी, सुपरवाईजर एवं संबंधित अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।
स/क्र

Leave a Comment

[democracy id="1"]

मुख्यमंत्री विष्णु देव की संवेदनशील पहल छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को अनुसूचित जनजातियों की सूची में पाव जाति के साथ शामिल करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा

error: Content is protected !!