एक पेड़ माँ के नाम‘‘ अभियान के तहत विभिन्न स्थानों में किया गया पौधरोपण

‘‘एक पेड़ माँ के नाम‘‘ अभियान के तहत विभिन्न स्थानों में किया गया पौधरोपण

जल शक्ति से नारी शक्ति के तहत जल संरक्षण की दिलाई गई शपथ

 

जांजगीर-चांपा 8 जुलाई 2024/ कलेक्टर आकाश छिकारा के निर्देशन और जिला पंचायत सीईओ गोकुल रावटे के मार्गदर्शन में तालाब किनारे, सड़क किनारे, स्कूल प्रांगण, खेल मैदान सहित विभिन्न स्थानों में जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं स्कूल के छात्र छात्राओं के द्वारा ‘‘एक पेड़ माँ के नाम‘‘ के तहत पौधारोपण किया जा रहा है।
अभियान के तहत जनपद पंचायत बलौदा के ग्राम पंचायतों में स्कूल, पंचायत भवन, स्वास्थ्य केंद्र व अन्य परिसरों में एक वृक्ष माँ के नाम अभियान के तहत वृक्षारोपण किया गया। इसके साथ ही विभिन्न ग्राम पंचायतों में शिक्षकों, बच्चों, सचिवों, सरपंचों के साथ साथ जनपद अध्यक्ष, बीडीसी व अन्य जनप्रतिनिधि शामिल हुए। वृक्षारोपण के साथ ही जल शक्ति से नारी शक्ति के तहत जल संरक्षण की जानकारी व शपथ भी लिए गए। ग्राम पंचायत लगरा जनपद पामगढ़ द्वारा नारी शक्ति से जल सक्ति के माध्यम से पौधारोपण किया गया व रैली निकाल कर गांव में जागरूक किया गया। इसके साथ जिले के विभिन्न ग्राम पंचायतों के तालाब किनारे, सड़क किनारे, स्कूल प्रांगण, खेल मैदान सहित विभिन्न स्थानों में जनप्रतिनिधियों, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं स्कूल के छात्र छात्राओं के द्वारा ‘‘एक पेड़ माँ के नाम‘‘ के तहत पौधारोपण किया गया।

10 जुलाई से चलेगा पौधरोपण सप्ताह, सेल्फी कॉन्टेस्ट और निःशुल्क पौधा का होगा वितरण

 

 

जिले में 10 जुलाई से 16 जुलाई तक ‘‘एक पेड़ माँ के नाम‘‘ अभियान के तहत वृहद पौध रोपण सप्ताह का आयोजन किया जाएगा। वनमंडलाधिकारी  प्रियंका पांडेय ने बताया कि 10 जुलाई को कलेक्टर  आकाश छिकारा एक पेड़ मां के नाम से सेल्फी कॉन्टेस्ट और निःशुल्क पौध वितरण कार्यक्रम की शुरूआत करेंगे। 13 एवं 14 जुलाई को हरियाली रथ रवाना किया जाएगा, जो 13 जुलाई को जांजगीर एवं 14 जुलाई को चांपा के मुख्य चौक-चौराहों में भम्रण करते हुए निःशुल्क पौधा का वितरण करेगा। 16 जुलाई को समापन के साथ सभी स्कूल, कालेज, आंगनबाड़ी केन्द्र, आश्रमों, शासकीय कार्यालयों, ग्राम पंचायत भवनों, अमृत सरोवर सहित विभिन्न स्थानों पर वृक्षारोपण करते हुए शपथ का आयोजन किया जाएगा।

Leave a Comment

[democracy id="1"]

मुख्यमंत्री विष्णु देव की संवेदनशील पहल छत्तीसगढ़ की पबिया, पविया, पवीया जाति को अनुसूचित जनजातियों की सूची में पाव जाति के साथ शामिल करने का प्रस्ताव भारत सरकार को भेजा

error: Content is protected !!