कलेक्टर आकाश छिकारा ने कलेक्टोरेट परिसर में जल भराव वाले स्थानों का किया अवलोकन

 

कलेक्टर ने जिले में डेंगू – मलेरिया की रोकथाम के लिए 10 हफ्ते 10 बजे 10 मिनट अभियान का किया शुभारंभ

कलेक्टर आकाश छिकारा ने कलेक्टोरेट परिसर में जल भराव वाले स्थानों का किया अवलोकन

कलेक्टर ने जिले के सभी नागरिकों से जल भराव वाले स्थानों की साफ-सफाई रखने की अपील

 

जांजगीर-चांपा 11 जुलाई 2024/ कलेक्टर आकाश छिकारा द्वारा जिले को डेंगू – मलेरिया मुक्त बनाने के लिए जिला प्रशासन द्वारा विशेष अभियान ‘‘ 10 हफ्ते 10 बजे 10 मिनट अभियान’’ की शुरुआत की गई। इसके अंतर्गत कलेक्टर ने प्रत्येक गुरूवार को सुबह 10 बजे 10 मिनट के लिए जिले के अधिकारी कर्मचारियों ने अपने अपने कार्यालयों का निरीक्षण कर मच्छरों के लार्वा पनपने से रोकने के लिए अनावश्यक जमे हुए पानी को बाहर निकालने, आवश्यक जगहों पर मिट्टी तेल, इंजन आयल एवं अन्य लार्वा रोधी पदार्थों का छिड़काव कराने के निर्देश दिए हैं। कलेक्टर ने सभी नागरिकों से अपील कर कहा कि अपने आस पास के जल भराव वाले स्थानों की साफ-सफाई रखें।
इसी तारतम्य में कलेक्टर आकाश छिकारा ने आज कलेक्टोरेट कार्यालय परिसर का निरीक्षण कर परिसर में लगे कूलर एवं अन्य पानी जमा होने वाले जगह का अवलोकन किया। उन्होंने मच्छरों के लार्वा पनपने से रोकने के लिए अनावश्यक जमे हुए पानी को बाहर निकालने के निर्देश दिए। उन्होंने कलेक्टोरेट कार्यालय के छत पर जाकर पुराने कंडम पड़े सामानों को हटाने अथवा आवश्यकतानुसार डिस्पोज करने कहा। उन्होंने सीपेज वाले स्थानों को भी मरम्मत करवाने के भी निर्देश दिए, जिससे मलेरिया-डेंगू वाले मच्छर न पनप सके। कलेक्टर ने सभी अधिकारी अपने कार्यालयों का सुबह 10 बजे निरीक्षण करने कहा एवं ऐसे स्थान जहाँ मच्छर पनपते हैं – जहां पानी का ठहराव है या पानी जमा हो रहा है जैसे कूलर, ख़ाली पड़े टायर, ख़ाली बर्तन इत्यादि को साफ़ कर पाएंगे अथवा कैरोसीन तेल का छिड़काव करवाने के निर्देश दिए हैं। इसके अलावा सहायक कलेक्टर दुर्गा प्रसाद अधिकारी सहित जिले के सभी अधिकारियों ने अपने कार्यालय का निरीक्षण कर साफ-सफाई की करने की निर्देश दिए।
उल्लेखनीय है की कलेक्टर छिकारा ने प्रत्येक गुरुवार को प्रातः 10 बजे से 10 मिनट तक सभी अधिकारी जिले को डेंगू – मलेरिया मुक्त बनाने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए थे। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में भी आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन, स्वास्थ्य कार्यकर्ता, स्वच्छता समूह सहित अन्य व्यक्ति प्रत्येक गुरूवार को प्रत्येक ग्रामों में गृह भेंट करके घर के भीतर, आसपास किसी भी प्रकार के पुराने बर्तन, पुराने प्लास्टिक डिब्बे, पुराने टायर एवं कूलर इत्यादि में किसी भी प्रकार से पानी को जमा नहीं होने देने की जानकारी देकर जागरूक करने के निर्देश दिए हैं।

Leave a Comment

[democracy id="1"]
error: Content is protected !!